अमेरिका में वियतनाम युद्ध की त्रासदी छूटी पीछे

अमेरिका में वियतनाम युद्ध की त्रासदी छूटी पीछे

कोरोना महामारी की मार झेल रहे अमेरिका के लिए मंगलवार का दिन उसके इतिहास का सबसे बुरा दिन बन गया। जॉन हॉप्किंस के आंकड़ों के मुताबिक अमेरिका में इस वैश्विक महामारी से मरने वालों की संख्या 58,365 हो गई, जो वियतनाम युद्ध के समय से भी अधिक हो गई है। 20 सालों तक वियतनाम में चले युद्ध में कुल 58,220 अमेरिकी मारे गए थे लेकिन चीन के वुहान से फैले इस वायरस की वजह से अब तक 58,365 अमेरिकियों की मौत हो चुकी है। अमेरिका और वियतनाम के बीच 1955 से 1975 के बीच युद्ध चला था जो गृह युद्ध के बाद अमेरिकी इतिहास का सबसे बुरा संघर्ष साबित हुआ था लेकिन मंगलवार को डोनाल्ड ट्रंप के राष्ट्रपति शासन में अमेरिका ने मात्र चार महीने में उस युद्ध से अधिक मौतों का आंकड़ा छू लिया। इतना ही नहीं मंगलवार को अमेरिका दुनिया का पहला ऐसा देश बन गया, जहां कोविड-19 से संक्रमित लोगों की संख्या 10 लाख से अधिक हो गई। इसके बावजूद यहां रोजाना मृतकों और संक्रमितों की संख्या में बढ़ोतरी हो रही है।
अमेरिका में 24 घंटे में 2200 मौतें
दुनिया वैश्विक महामारी कोरोना के कहर से लगातार जूझ रही है। इस वायरस से मरने वालों की संख्या दो लाख 17 हजार से ज्यादा हो गई है और संक्रमितों की संख्या 31 लाख 38 हजार को पार कर गई है। जबकि नौ लाख 55 हजार से ज्यादा लोग ठीक हो चुके हैं। दुनिया में सबसे ज्यादा प्रभावित देश अमेरिका में मृतकों की संख्या 59 हजार को पार कर गई है और 10 लाख 35 हजार से ज्यादा लोग संक्रमित हैं। जॉन्स हॉपकिंस के आंकड़ों के मुताबिक अमेरिका में पिछले 24 घंटे में 2200 लोगों की मौत हुई है। कोरोना की वजह से उड़ानों के प्रभावित होने के बाद अब आइसलैंड की एयरलाइन आइसलैंडएयर ने अपने यहां से 2000 कर्मचारियों की छंटनी करने का फैसला किया है।