क्या दुनिया मे ऐसी महामारी  " कोरोना वायरस " जैसी कभी फैली नही ?

क्या दुनिया मे ऐसी महामारी 
क्या दुनिया मे ऐसी महामारी 

श्री सद्गुरु सेवा संस्थान इंदौर।

गुरुदेव श्री चन्द्रप्रभु का सन्देश --

क्या दुनिया मे ऐसी महामारी  " कोरोना वायरस " जैसी कभी फैली नही ?

विचार करे --

इस बीमारी से कैसे बचें इस पर विचार करे ।नाकि रोज के समाचार जो देश ,विदेश,राज्य ,शहर ,गांव में इस वायरस की चर्चा में दिन रात बिता दे ।

वायरस से बचना आसान है ।लेकिन लापरवाही और डर से  बचना आसान नहीं ।

डर से लापरवाही जन्म लेती है। और यह कोरोंना से ज्यादा खतरनाक है ।इस पर अंकुश लगाना जरूरी है ।

इसे समझेंगे नही तो इसका विकराल रूप भयानक सामने होगा ।

एक सामूहिक पागलपन के कारण कुछ भी हो सकता है ।भूख मिटाने तक तो ठीक पर जमाखोरी से बचे ।

यह जो भयानक माहौल दिख रहा है ,वायरस तो अपनी जगह है लेकिन सामूहिक पागलपन इसकी जड़ है ।

लापरवाही ही मृत्यु है ।इसे समझे ।

केवल अवसर पर ध्यान दे ।

साधारण व्यक्ति के लिए डर ,

ज्ञानियो के लिए अवसर ।

पुस्तके पढे ,किताबे लिखे ,

अपनी जीवनी लिखे , फिल्मे देखे ,व्यायाम ,ध्यान, योग करे ।मासूमियत लाये , वजन घटाए ,बढ़ाए ।शोक पूरे करे चित्रकला, मूर्तियां बनाना, पैसा बचाने की योजना बनाना ,बुरी आदत को छोड़ने का अवसर मिला है ,लाभ ले।

क्यो महामारी कोरोना की बाते कर समय नष्ट करते हो ।

यह एक सामुहिकता डर है । 

लापरवाह मत बनो ।

जयश्री कृष्णा ।

जय हिंद  । जय भारत  ।