देश को गर्म हवाओं से मिलेगी राहत, उत्तर भारत के कई इलाकों में हल्की बारिश की संभावना

देश को गर्म हवाओं से मिलेगी राहत, उत्तर भारत के कई इलाकों में हल्की बारिश की संभावना

उत्तर भारत में गुरुवार से अधिकतम तापमान में कमी आने की संभावना है जो कि इस समय भीषण गर्मी की चपेट में है. इस बात की जानकारी भारतीय मौसम विज्ञान विभाग ने बुधवार को दी. उत्तर और मध्य भारत में पिछले कई दिनों से लू का प्रकोप जारी है. साथ ही कई जगहों पर तापमान 47 डिग्री सेल्सियस से अधिक दर्ज किया जा रहा है.

 

उत्तर भारत के कुछ हिस्सों में चलेगी धूल भरी आंधी-मौसम विभाग

 

मौसम विभाग ने कहा कि पश्चिमी विक्षोभ से 28 से 30 मई तक कुछ राहत मिलने की उम्मीद है. इस दौरान उत्तर भारत के कुछ हिस्सों में धूल भरी आंधी और गरज के साथ छींटे पड़ने की संभावना भी है.

 

18 साल बाद मई के महीने में सबसे ज्यादा गर्मी

 

बता दें कि देश की राजधानी दिल्ली के सफदरजंग में मंगलवार (27 मई ) को 18 साल बाद मई के महीने में सबसे ज्यादा गर्मी देखी गई. मंगलवार को दिल्ली के पालम में तापमान 47.6 डिग्री तक पहुंच गया. इसके अलावा दिल्ली के आयानगर में 46.8 डिग्री, सफदरगंज में 46 डिग्री, लोधी रोड में 45.4 डिग्री तापमान दर्ज किया गया. दिल्ली के अधिकांश स्थानों पर तापमान सामान्य से छह डिग्री ज्यादा था.

 

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के क्षेत्रीय पूर्वानुमान केंद्र के प्रमुख कुलदीप श्रीवास्तव ने कहा, सफदरजंग में पिछली बार 46 डिग्री सेल्सियस का तापमान 19 मई 2002 को दर्ज किया गया था. मई में सफदरजंग का ऑल टाइम रिकॉर्ड 47.2 डिग्री सेल्सियस है, जो 29 मई 1944 को देखा गया था. उन्होंने बताया, दिल्ली के पालम में मई के महीने में 47.6 डिग्री सेल्सियस उच्चतम तापमान 18 मई 2010 को दर्ज किया गया था.