संसद में सरकार ने बताया, कब-कब हुई घुसपैठ

संसद में सरकार ने बताया, कब-कब हुई घुसपैठ

भारत की पूर्वी और पश्चिमी सीमा पर तनाव जारी है। जहां एक तरफ चीन लगातार अपने तेवर दिखा रहा है, वहीं पाकिस्तान की तरफ से घुसपैठ की कोशिश की जाती रहती है। पाकिस्तानी सैनिक आए दिन सीजफायर का उल्लंघन करते रहते हैं। वहीं, सरकार ने मानसून सत्र के दौरान राज्यसभा में बताया कि पिछले छह महीने में कितनी बार सीमा पर पाकिस्तान और चीन की तरफ से घुसपैठ की घटना को अंजाम दिया गया है। सरकार से पूछा गया कि पिछले छह महीने में पाकिस्तान और चीन की तरफ से कितनी बार घुसपैठ की कोशिश हुई है। इसके जवाब में गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय ने राज्यसभा में बताया कि पाकिस्तान की तरफ से फरवरी में शून्य, मार्च में चार, अप्रैल में 24, मई में आठ, जून में शून्य और जुलाई में 11 बार घुसपैठ की कोशिश हुई। वहीं, चीन की तरफ से हुई घुसपैठ की जानकारी देते हुए गृह राज्य मंत्री ने बताया कि पिछले 6 महीनों में भारत-चीन सीमा पर कोई घुसपैठ नहीं हुई है। गौरतलब है कि लद्दाख सीमा पर चीन के साथ लंबे समय से सैन्य गतिरोध जारी है, दोनों पक्षों के सैनिकों के बीच रुक-रुक कर झड़प की खबरें भी सामने आ रही हैं। गौरतलब है कि इससे पहले रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने मंगलवार को लोकसभा में चीन के साथ सीमा विवाद पर बयान देते हुए कहा था कि चीन की तरफ से यथास्थिति बदलने का प्रयास किया गया, लेकिन जवानों की मुस्तैदी ने उसके मंसूबों को नाकामयाब कर दिया। रक्षा मंत्री ने कहा, सरकार और सेना किसी भी परिस्थिति से निपटने के लिए पूरी तरह तैयार है।