हार्ट अटैक और कोलेस्ट्रॉल लेवल के खतरे को कम करने में प्याज है मददगार

हार्ट अटैक और कोलेस्ट्रॉल लेवल के खतरे को कम करने में प्याज है मददगार

आपके खान-पान का सीधा असर आपकी सेहत पर पड़ता है. हार्ट की समस्याओं का सीधा संबंध कोलेस्ट्रॉल से होता है. कोलेस्ट्रॉल बॉडी के लिए आवश्यक होता है. मगर इसके बढ़ जाने से हार्ट अटैक और स्ट्रोक का खतरा भी कई ज्यादा बढ़ जाता है. शरीर में कलेस्ट्रॉल के स्तर को नियंत्रित करके आप हार्ट की परेशानियों के खतरे से खुद को बचा सकते हैं. ऐसे में आपको अपने खानपान में थोड़ा सा बदलाव करना जरूरी होता है. कुछ सुपरफूड जैसे कि प्याज कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करने में मददगार होते हैं, तो आइए आज हम आपको कोलेस्ट्रॉल को कम करने में प्याज की भूमिका के बारे में बताने जा रहे हैं.

 

हेल्दी कोलेस्ट्रॉल लेवल के लिए प्याज  
प्याज ऐसे गुणों से भरपूर होती है, जो कोलेस्ट्रॉल के लेवल को कम करने में मददगार होते है. इसमें पॉलीफेनोलिक यौगिक की भरपूर मात्रा पायी जाती है, इसे फ्लेवोनोइड्स नाम से भी जाना जाता है. ये हेल्दी हार्ट के लिए बहुत ही लाभकारी होती हैं. फ्लेवोनोइड्स में एंटी-इंफ्लेमेटरी, एंटीऑक्सिडेंट गुण होते हैं, जो कैंसर से बचाने में सहायक होते हैं.

 

क्या कहती हैं स्टडी
एक अध्ययन के अनुसार, प्याज में फ्लेवोनॉयड्स की भरपूर मात्रा के कारण यह मोटे लोगों में खराब कोलेस्ट्रॉल को कम करने में सहायक होती हैं, जो दिल के रोगों के खतरों में से एक हैं. एक अन्य अध्ययन के अनुसार, लाल प्याज के सेवन से कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम किया जा सकता है.

 

मधुमेह रोगियों के लिए प्याज है बेहद फायदेमंद  
डायबिटीक पेशेंट के लिए प्याज बेहद लाभकारी मानी जाती है. प्याज एक कम ग्लाइसेमिक इंडेक्स रैंकिंग वाले फूड में आता है क्योंकि प्याज का ग्लाइसेमिक इंडेक्स 10 से भी कम होता है. इसके साथ ही प्याज में बहुत कम कार्ब्स पाए जाते हैं, इसलिए यह आपके दिल के स्वास्थ्य के लिए बहुत लाभकारी होता है.

 

प्याज को आहार में शामिल करने के स्वास्थ्य लाभ-
प्याज खाने से पाचन तंत्र दुरुस्त रहता है.
प्याज एंटी-बैक्टीरियल गुणों से भरपूर होती है. जिससे बैक्टीरिया होने वाले खतरों से बचने में मदद मिलती है.
प्याज का रस बालों पर लगाने से बालों की ग्रोथ बढ़ती है.
प्याज के खाने से आंतों में होने वाले हानिकारक बैक्टीरिया को मारने में मदद मिलती है.