Truecaller यूजर्स के लिए बड़ा झटका, 75,000 में बिक रहा 4.75 करोड़ भारतीयों का डाटा- रिपोर्ट

Truecaller यूजर्स के लिए बड़ा झटका, 75,000 में बिक रहा 4.75 करोड़ भारतीयों का डाटा- रिपोर्ट

देश और दुनिया में साइबर क्राइम तेजी से बढ़ रहा है. साइबर अपराधियों के लिए डेटा चुराना जैसे आम सी बात हो गई है. ताजा मामले की बात करें तो एक रिपोर्ट के मुताबिक एक साइबर अपराधी 4.75 करोड़ भारतीयों के रिकॉर्ड 75,000 हजार रुपये में डार्क वेब पर बेच रहा है. इस अपराधी ने ये दावा किया है कि उसने ये रिकॉर्ड ट्रूकॉलर से प्राप्त किए हैं.

 

इस पूरे मामले की जानकारी ऑनलाइन इंटेलिजेंस कंपनी साइबल ने दी है. कंपनी ने ब्लॉग के जरिए बताया, "हमारे रिसर्चर्स ने एक नामी विक्रेता की पहचान की है जो 4.75 करोड़ भारतीय के ट्रूकॉलर रिकॉर्ड को 75,000 रुपए में बेच रहा है. यह डाटा पिछले साल है. हमें इसके लिए इतनी कम कीमत की मांग लेकर हैरानी हुई है. जो डाटा बिक्री के लिए रखा गया है उसमें फोन नंबर, मेल या फीमेल इसकी जानकारी, शहर, मोबाइल नेटवर्क और फेसबुक आईडी का पूरा लेखा जोखा है."

 

दूसरी तरफ ट्रूकॉलर ने ऐसे किसी भी डाटा की चोरी से साफ इंकार किया है. कंपनी के प्रवक्ता ने कहा कि इस डाटा को बेचने के लिए हमारी कंपनी का नाम इसलिए लिया जा रहा ताकि इससे भरोसा पैदा हो सके. उन्होंने आगे कहा कि हमारा सारा डाटा पूरी तरह से सुरक्षित है और हम अपने यूजर्स के रिकॉर्ड की सुरक्षा को लेकर काफी गंभीर हैं. उन्होंने बताया कि ऐसा मामला पिछले साल भी सामने आ चुका है.

 

वहीं साइबल का कहना है कि अगर सच में ऐसा है तो ये बड़े पैमाने पर भारतीय यूजर्स को प्रभावित कर सकता है. कंपनी की तरफ से कहा गया कि हमारी इस मामले पर नजर है हमें अगर कोई और जानकारी मिलेगी तो उसे ब्लॉग के जरिए बताया जाएगा.